Wednesday, 16 March 2011

कब तलक


कब तलक तन्हाईयों में बैठकर रोता रहेगा ?
कब तलक अश्कों से उनके अक्स को धोता रहेगा ?
कब तलक ये ज़िन्दगी यूँ ही गुज़ारेगा अकेला ?
देखने में स्वप्न उसका , कब तलक सोता रहेगा ?

कब तलक नफरत करेगा रेत से  " सागर " की ख़ातिर ? 
कब तलक सूना  रहेगा यूँ तुम्हारे दिल का मंदिर ?
कब तलक खोया रहेगा शून्य की गहराईयों  में ?
ढूंढता उसको रहेगा कब तलक तू ऐ मुसाफिर ?

कब तलक तोड़ेगा तू इन आईनों को ?
एक टुकड़ा भी तुझे प्रतिरूप देगा , 
ज़िन्दगी खिल जाएगी इक फूल जैसी ,
ग़र अंधेरों से निकलकर धूप देगा !!

क्यूँ समझता है नहीं तू बात मेरी ?
जब तलक इक सांस है जीना पड़ेगा , 
प्यार ही मिलता नहीं है हर क़दम पर ,
दर्द-ए-दिल का जाम भी पीना पड़ेगा  !!

है सहारा ग़र नहीं तेरा जहाँ में ,
बन सहारा पंगु को तू चाल दे दे , 
देखता रह जाये ये सारा ज़माना ,
इस तरह दुःख दर्द को सुर-ताल दे दे !! 

हार कर बैठा रहेगा कब तलक यूँ ?
मोड़ दे हर राह को अपने क़दम से ,
हर शब्द तेरा शायरी बन जायेगा फिर , 
देख तो लिख करके तू  दिल की कलम से,,,....!!
देख तो लिख करके तू..................

5 comments:

  1. शुभागमन...!
    कामना है कि आप ब्लागलेखन के इस क्षेत्र में अधिकतम उंचाईयां हासिल कर सकें । अपने इस प्रयास में सफलता के लिये आप हिन्दी के दूसरे ब्लाग्स भी देखें और अच्छा लगने पर उन्हें फालो भी करें । आप जितने अधिक ब्लाग्स को फालो करेंगे आपके ब्लाग्स पर भी फालोअर्स की संख्या उसी अनुपात में बढ सकेगी । प्राथमिक तौर पर मैं आपको 'नजरिया' ब्लाग की लिंक नीचे दे रहा हूँ, किसी भी नये हिन्दीभाषी ब्लागर्स के लिये इस ब्लाग पर आपको जितनी अधिक व प्रमाणिक जानकारी इसके अब तक के लेखों में एक ही स्थान पर मिल सकती है उतनी अन्यत्र शायद कहीं नहीं । प्रमाण के लिये आप नीचे की लिंक पर मौजूद इस ब्लाग के दि. 18-2-2011 को प्रकाशित आलेख "नये ब्लाग लेखकों के लिये उपयोगी सुझाव" का माउस क्लिक द्वारा चटका लगाकर अवलोकन अवश्य करें, इसपर अपनी टिप्पणीरुपी राय भी दें और आगे भी स्वयं के ब्लाग के लिये उपयोगी अन्य जानकारियों के लिये इसे फालो भी करें । आपको निश्चय ही अच्छे परिणाम मिलेंगे । पुनः शुभकामनाओं सहित...

    नये ब्लाग लेखकों के लिये उपयोगी सुझाव.

    उन्नति के मार्ग में बाधक महारोग - क्या कहेंगे लोग ?

    ReplyDelete
  2. ब्‍लागजगत पर आपका स्‍वागत है ।

    नि:शुल्‍क संस्‍कृत सीखें । ब्‍लागजगत पर सरल संस्‍कृतप्रशिक्षण आयोजित किया गया है
    संस्‍कृतजगत् पर आकर हमारा मार्गदर्शन करें व अपने
    सुझाव दें, और अगर हमारा प्रयास पसंद आये तो संस्‍कृत के प्रसार में अपना योगदान दें ।

    यदि आप संस्‍कृत में लिख सकते हैं तो आपको इस ब्‍लाग पर लेखन के लिये आमन्त्रित किया जा रहा है ।

    हमें ईमेल से संपर्क करें pandey.aaanand@gmail.com पर अपना नाम व पूरा परिचय)

    धन्‍यवाद

    ReplyDelete
  3. " भारतीय ब्लॉग लेखक मंच" की तरफ से आप को तथा आपके परिवार को होली की हार्दिक शुभकामना. यहाँ भी आयें. www.upkhabar.in

    ReplyDelete
  4. i am very happy for you that continuously start writing.

    ReplyDelete
  5. बहुत बढ़िया लिखते हैं आप.

    सादर

    ReplyDelete